Lyrics

Listen to this beautiful lofi version of Chaap Tilak in the voice of Namita Choudhary.

Lyrics :-
खुसरो रैन सुहाग की जो मैं जगी पी के संग
तन मोरा मन पिया का जो दोनो एक ही रंग

खुसरो दरिया प्रेम का जो उल्टी वा की धार
जो उभरा सो डूब गया जो डूबा सो पार

अपनी छब बनाइके जो मैं पी के पास गयी
छब देखी जब पिया की मोहे अपनी भूल गयी

छाप तिलक सब छीनी रे मोसे नैना मिलाई के
बात अघम कह दीनी रे मोसे नैना मिलाई के

बल बल जाऊँ मैं तोरे रंग रजवा
ऐसी रंग रंग दे रंग नाही छूटे
धोबिया धोए चाहे सारी उमरिया
अपनी सी रंग दीनी रे मोसे नैना मिलाई के

प्रेम भटी का मधवा पिलाई के
मतवारी कर दीनी रे मोसे नैना मिलाई के

गोरी गोरी गोरी बइयाँ हरी हरी चूड़ियां
बहियाँ पकड़ हर लीनी रे मोसे नैना मिलाई के

खुसरो निज़ाम के बल बल जाइयाँ
हर क़ौम रास्त रहे दीन -ए -वा क़िबला गाहे
मुन क़िबला रास्त कदम बर सिम्त कजकुल्लाहे

या निज़ामुद्दीन मेहबूब ए खुदा
जुमला मेहबूबा घुलम ए ?
मोहे सुहागन कीनी रे मोसे नैना मिलाई के

बहुत कठिन है डगर पनघट की
कैसे भर लाऊँ मैं जमुना से मटकी
ख़्वाजा निज़ामुद्दीन ख़्वाजा निज़ामुद्दीन
लाज राखो मोरे घूंघट पट की

खुसरो निज़ाम के बल बल जाइयाँ
मोहे सुहागन कीनी रे मोसे नैना मिलाई के

Original Song Credit

Various Artist

Cover Song Credit

Namita Choudhary

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

Queue
clear